LTE, VoLTE क्या है? और ये कैसे काम करते है?

By | August 25, 2019

इस post में, जो हम जानकारी आपके साथ share करेंगे वो ‘LTE और volte क्या है’ के बारे में होगी तो यदि आपको volte के या फिर LTE के बारे में जानकारी नही है और इसके और में सभी चीज़ों को जानना चाहते है तो post को पढ़ते रहे।

दोस्तों आज पूरे world को technology ने बदल कर रख दिया है। आज हम उस दुनिया मे रह रहे है जहाँ बिना technology के कुछ भी कर पाना मुमकिन नही है और उन्ही में से है एक internet और telecom की technology, जिसके द्वारा हम दूसरे अन्य लोगो के साथ contact कर पाते है और उन से communicate कर पाते है। अगर आज internet और  communication थोड़ी देर के लिए भी अगर थम जाए तो देश को और व्यापार को करोड़ो रुपयों का नुकसान हो जाता है।

इस technology का विस्तार इतनी तेजी से हुआ है की इसने हमारे जीने का तरीका बदल कर रख दिया है , आज आप घर पर बैठे ticket की booking या फिर money transfer जो कर पाते है यह सब technology की ही देन है, आज हम आज अपने mobile  पर काफी चीज़े करते है जैसे कि videos देखना internet इस्तेमाल करना, लेकिन क्या अपने यह सोचा है कि पहले जब आप internet पर जब किसी video को online देखते थे तब आपको buffering जैसे समस्याओं का सामना करना पड़ता था। क्योंकि उन दिनों में आज के मुकाबले internet speed नही थी और जो कुछ अच्छी broadband सेवाय थी, वो internet के लिए बहुत अधिक charge करती थी जो कि सभी लोगो के लिए affordable नही था। लेकिन आज हम 4g के जमाने मे रह रहे है जहाँ internet speed हमे 100mbps तक कि मिलती है वही fiber broadband की speed 1gbps तक मिलती है। लेकिन जब हम लोग 2g का इस्तेमाल करते थे तब हमें इतनी अच्छी internet speed नही मिलती थी, वहाँ हमे केवल 128kbps की थी, जो कि हमारी basic need को भी पूरा नही करता था और फिर 3g आया, इसकी speed 5mbps के आसपास थी, जो कि कुछ संतोषजनक थी। लेकिन हम इसके साथ online platforms को अधिक आगे तक नही ले जा सकते थे और फिर 2008 में 4g को introduce किया गया जहाँ पर सभी को इसकी speed 100mbps की बताई गई थी। और 4g network की वजह से ही हमे online streaming platforms को इस्तेमाल करते समय buffering जैसी समस्याओं से छुटकारा मिला, लेकिन अब 5g के ऊपर प्रयोग चल रहा है और कुछ देशों ने तो इसे commercially launch करने की तैयारी भी कर ली है। जहाँ हमे 20gbps की speed तक मिलने को बोला गया है। इससे हमें चीज़ों को  live और exact track time पर करने और communicate करने में मदद मिलेगी। जिससे कि live driver free taxi को commercially launch करने का सपना पूरा होगा, और इससे AI के field में भी हमे बहुत फायदा होगा और cloud computing और live gamming जैसे platform में भी सुधार होगा।

तो चलिए दोस्तों विस्तार से जानते है कि LTE और volte क्या होता है, इसका आविष्कार कब हुआ था, volte और LTE में क्या अंतर है और LTE network के क्या फायदे है और हमारे देश भारत मे कब सभी लोगो के लिए LTE और volte launch किया गया था।

LTE और volte क्या है?

Volte का full form voice over LTE network है। यह एक संपूर्ण विकसित 4g network है और इसकी internet downloading speed 100mbps तक जाती है तथा uploading speed 50mbps तक कि है और यह अभी तक कि सबसे fast wireless Internet data speed को प्रदान करता है जिसे आने वाले समय में 5g network ही replace कर सकता है।

volte service को इस्तेमाल करने के लिए आपके पास 4g network का होना अनिवार्य है। क्योंकि यह service केवल 4g को support करता है। जो कि यह 3g या 2g networks पर कार्य नही करता है।

आप volte के द्वारा Hd voice calling और video calling कर सकते है। क्योंकि यह network केवल internet के द्वारा ही चलता है और इसमें आप voice calling के साथ साथ internet का भी इस्तेमाल कर सकते है। और वही LTE network का full form long term evolution है, और इसका इस्तेमाल हम internet के लिए करते है। लेकिन अगर आप केवल LTE network के द्वारा अगर किसी से बात करते है, तो आपको यहाँ Hd voice calling नही मिलेगी और अगर आप चाहते है कि आप calling के दौरान internet का भी इस्तेमाल कर सके तो यह भी संभव नही है। क्योंकि LTE network voice calling के दौरान internet को disable कर देता है। वही volte service internet protocol पर पूर्ण रूप से आधारित है इसलिए यहाँ आपको voice calling के दौरान internet भी इस्तेमाल कर सकते है। यह service 800 MHz, 1800 MHz, 2500 MHz, 2300 MHz frequency पर कार्य करती है।

Volte network technology को भारत मे पहली बार reliance jio company लेकर आई थी और इसका promotion भी खूब किया गया था। और लोगो की sim लेने के लिए लंबी लंबी lines भी लगी हुई थी।

आज LTE 4g technology की service भारत मे अन्य companies भी दे रही है. लेकिन उनके पास अभी भी volte को support करने वालो technology नही है। और अब reliance jio ने अपना fiber broadband service भी शुरु कर दिया है जिसकी speed 1gbps तक की है।

LTE कैसे कार्य करता है?

LTE network internet protocol version 6 (IPV6) पर कार्य करता है जो कि सबसे fast internet speed प्रदान करता है। यह DATA को छोटे छोटे pockets में ले जाने की बजाय data को large packets के एक साथ ले जाता है। जबकि 2g में data small packets के रूप में जाता है जिसमे की काफी delay होता है किसी भी data के पूरा पहुचने में।

LTE की सबसे अच्छी बात ये है कि यह data को transfer करने में latency को कम करता है और वही GSM time delay duplex use करता है वही CDMA code division duplex use करता है।

Volte को भारत मे कब पहली बार launch किया है?

Volte service को सबसे पहले reliance jio ने 5 September 2016 को launch किया था और इसके launch होते ही सभी telecom industries में हलचल सी मच गई थी। क्योंकि jio भारत का पहला volte enable network है और यह first six months तक बिल्कुल free था। जिसका असर ये हुआ कि सभी लोग jio पर shift होने लगे तथा इसका सभी companies ने  विरोध भी किया, कहा कि यह नियमों के खिलाफ है और इससे हमें बहुत नुकसान होगा। लेकिन jio ने इसके जबाब में यही कहा कि उनका network अभी testing के लिए है और वे अभी अपने network performance को test कर रहे है. जिस वजह से अभी वो कोई charge नही कर सकते है। इसका नतीजा ये हुआ कि दूसरी telecom कंपनियां जो कि बहुत बड़ी थी और जिनके करोड़ो ग्राहक थे वो लोग struggle करने लगे और कई companies तो लगातार loss में चलने की वजह से या तो बंद हो गयी या फिर किसी अन्य के साथ marge हो गयी, ताकि वो market में बनी रहे। फिर दूसरी companies ने भी 4g network को लाने की तैयारी करने लगे और jio की वजह से उनको अपने internet और calling के rates में भी कटौती करनी पड़ी, जो कि वो लोग पहले 2gb 3g internet के लिए 400 रुपए तक चार्ज करते थे।

LTE और volte में क्या अंतर है?

तो चलिए अब जान लेते है कि LTE और volte में क्या अलग है

  • LTE का full form long term evolution होता है और volte का voice over LTE होता है. यह दोनों ही 4g network पर ही चलते है और आप इसे 3g या 2g network पर access नही कर सकते है। वही LTE 4g network होता है जो कि केवल high speed internet के लिए होता है और 4g volte एक full 4g network होता है जहाँ आप किसी से बात भी internet के माध्यम से करते है।
  • जब आप 3g या 2g network के द्वारा internet को use करते है और उसी दौरान जब किसी का call आ जाता है तब आपका internet बंद हो जाता है। जबकि 4g volte network में ऐसा नही है, क्योंकि यहाँ volte network पर हम किसी से बात internet के द्वारा ही करते है। और आप voice call करते वक़्त भी internet का इस्तेमाल कर सकते है उसमे किसी प्रकार की कोई रुकावट नही आती है।
  • आप LTE, 3g, और 2g network के द्वारा voice call करते हैं तो वहाँ आपको उसकी high quality नही मिलती है और कई  बार आपको आवाज़ रुक रुक कर सुनाई देता है। वही आपको volte network पर ऐसी किसी समस्या का सामना नही करना पड़ता है और आपको यहाँ HD calling (rich voice) की सुविधा मिलती है जहाँ आपको voice crystal clear सुनाई देती है।
  • Volte network के द्वारा आप VIDEO call direct अपने mobile से कर सकते है और यहाँ आपको किसी अन्य app की जरूरत नही पड़ती है जैसे कि WhatsApp, google duo, skype, imo या अन्य कोई app. वही यदि आप LTE network या अन्य 3g या 2g के द्वारा ऐसा नही कर सकते है, यहाँ आपको यदि video call करना है तो आपको third party apps की जरूरत पड़ती है।
  • Only LTE network पर आपको call drop जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन volte (voice over LTE) service internet के द्वारा access होती है तो यहाँ आपको ऐसी समस्याओं का सामना नही करना पड़ता है।
  • Only LTE supported mobile phone के मुकाबले volte supported mobile devices महंगी होती है क्योंकि यहाँ आपको latest technology का support मिलता है और आपको LTE supported mobile के मुकाबले volte supported mobile में features भी अधिक मिलते है। जिसकी वजह से volte supported mobile devices की कीमत थोड़ी ज्यादा होती है।

4g LTE किस प्रकार से अन्य पुराने networks से अलग है।

अगर हम 4g network की बात करे कि यह अन्य पुराने networks के किस प्रकार से अलग है, तो आपको यहाँ हम बता दे कि 4g जिसे LTE भी कहा जाता है इसमें आपको बहुत ही high speed की internet connectivity मिलती है और यह internet protocol पर कार्य करता है। ताकि आप अच्छे और high speed internet का आनंद ले सके और आपको buffering जैसी समस्याओं का सामना न करना पड़े। और LTE network पर आपको Hd calling जैसा feature मिलता है तथा आप video call भी बिना किसी app की मदद से कर सकते है। वही अन्य 2g और 3g networks में आपको ऐसे feature नही मिलते है तथा 2g और 3g networks में आपको इतनी अच्छी internet speed भी नही मिलती है।

यदि आप 3g network के द्वारा video calling करते है तो आपको हमेशा किसी third party app का इस्तेमाल करना पड़ता है तभी आप video chat कर पाते है। और यहाँ आपको कई बार call drop जैसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है।

Networks की generation के बारे में जानकारी।

जब से mobile की दुनिया मे क्रांति आयी है तब से हम लगातार इसमें सुधार कर रहे है और आय दिन इसे और भी बेहतर बनाते जा रहे है। एक वक्त था जब हम landline के द्वारा कही बात किया करते थे और फिर wireless phone की को बनाया गया।

अब wireless phone जिसे हम आज mobile के नाम से जानते है यह केवल एक दूसरे से बात करने के लिए इस्तेमाल हुआ करता था लेकिन आज हम mobile का इस्तेमाल सबसे ज्यादा internet को use करने के लिए करते है, और जैसे जैसे mobile technology बढ़ती गयी वैसे वैसे network में भी सुधार होता गया और आज हम लगभग सभी काम मोबाइल के द्वारा ही करते है चाहे वो hotel booking करना हो या food order करना हो सब mobile और internet के माध्यम से हम कर पाते है। चलिए जानते है network generation के बारे में।

  • 1g network- यह first generation नेटवर्क technology थी जिसका उपयोग लगभग 1991 तक किया गया और फिर जब 2g technology का आविष्कार हुआ तब इस technology को कम इस्तेमाल किया जाने लगा तथा यह network analog system के ऊपर कार्य करती थी। जिसे की आज न के बराबर उपयोग किया जाता है।
  • 2g network- जब 1991 में 2g को commercially launch किया गया तो सभी लोग इस पर shift हो गए, और इसका फायदा ये था कि उस वक़्त आप mobile के द्वारा sms और mms जैसे messages को भेज सकते थे। इस GSM को 2nd generation यानी कि 2g का नाम दिया गया और इसकी frequency 900 MHZ और 1800 MHz है, तथा बाद में इसे upgrade भी किया गया ताकि internet connectivity को यह support कर सके, जिसे हम आज भी use कर रहे है।
  • 3g network- पहले 3g network को 1998 में शुरु किया गया था, जो कि UMTS, WCDMA, HSPA को Support करता है और 3g network में हमे बेहतर internet speed मिलती है और इस network की frequency भी 2g से high है। 3g को 3rd generation network कहा जाता है तथा इसकी frequency 2100 MHZ, 900 MHz पर कार्य करता है।
  • 4g network- 4g network को 2008 में introduce किया गया था और इसमें आपको high speed internet connectivity मिलती है। तथा इसका इस्तेमाल volte(voice over LTE) Hd calling के लिए भी किया जाता है और आप बिना किसी app की मदद से अपने mobile से direct HD video calling भी कर सकते है। यह technology 4th generation network कहलाता है। इसकी operating  frequency 1800MHZ, 850 MHZ, 2300MHz और 2500MHz है।
  • 5g network- 5g network 5th generation network technology है और इसकी internet speed लगभग 20 gbps तक कि है। हालांकि इसे अभी commercially तौर पर launch नही किया गया है और इसकी अभी testing ही जारी है, लेकिन jio ने कहा हैं कि उनका network 5g ready है और वो इसे कभी भी launch कर सकते है। इसकी frequency 600 MHZ है। और यह मौजूद 4g network से कई गुना fast है। लेकिन अभी इसकी testing जारी है और कुछ समस्याओं को सुलझाया जा रहा। ताकि consumers को अच्छी service मिल सके।

4g LTE और volte network के क्या फायदे?

  • आपको 4g volte network में HD voice calling की सुविधा मिलती है और आप को call drop जैसी समस्याओं से भी निजात मिलता है।
  • 4g LTE network की internet speed अन्य 3g और 2g network के मुकाबले काफी अच्छा है और यह सस्ता भी है जिसकी वजह से web pages mobile या desktop पर तेज़ी से load होती है और हमारे समय की भी बचत होती है।
  • 4g network की वजह से हमे online videos को देखते हुए buffering जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिला है और हम smooth streaming भी कर पाते  है.
  • 4g network के द्वारा हम online gaming को smooth तरीके से खेल सकते है और live stream भी कर सकते है वो भी बिना frame drop के, जिससे कि online gaming communities और businesses को बढ़ावा मिला है।
  • इसके वजह से हम cloud computing जैसी सेवाओं में सुधार कर सकते है और उनको और भी बेहतर और responsive बना सकते है।
  • LTE network के द्वारा हम real time चीज़ों को track कर सकते है, और देख सकते है कि हमारा समान कहाँ पहुचा है या कोई व्यक्ति कहा है और इससे medical के field में भी सुधार होगा।
  • इसके द्वारा हम hd video calling बिना किसी रुकावट के कर सकते है और हमे bad connectivity जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिलेगा।
  • चुकी यह network latest technology पर कार्य करता है तो हमे यहाँ हमे अन्य networks के मुकाबले अधिक security मिलती है। और hack होने या data चोरी जैसी चीज़े भी न के बराबर या बहुत कम है।

4g LTE networks के नुकसान?

  1. 4g LTE और अन्य network का सबसे बड़ा नुकसान ये होता है की उससे radiation निकलती है जिसकी वजह से migraine और cancer जैसी बीमारियाँ फैलती है।
  2. Cell phone towers की वजह से कई पंछियों को अपना रास्ता ढूंढने में परेशानी होती है तथा वो रास्ता भटक जाते है और मर भी जाते है। जिसकी वजह से nature पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है।
  3. 4g network को लगाने के लिए बहुत पैसा खर्च करना पड़ता है और यह बहुत costly है।
  4. यह बहुत ज्यादा power को consume करता है क्योंकि सभी machines को full efficiency पर work करना पड़ता है।
  5. इसको 24 hours working mode में रखने के लिए काफी महँगे hardware’s की जरूरत पड़ती है जो उच्च quality के हो, और यदि कोई equipment खराब हो जाए तो उसकी replacement भी बहुत महंगी होती है।
  6. 4g network में ज्यादा bandwidth की जरूरत पड़ती है क्योंकि यहाँ सभी चीज़े internet के माध्यम से चलती है।

Conclusion

दोस्तों अपने इस post के द्वारा जाना कि volte और LTE क्या होता है और इसकी शुरुआत कब हुई थी, LTE network अन्य दूसरे network से कैसे अलग है। 4g network से हमे क्या फायदे है और इसके इस्तेमाल से कैसे हम अपनी services को सुधार सकते है। और इसके फायदे और नुकसान क्या है।

दोस्तों आज हम 4g LTE के जमाने मे रह रहे है जहाँ voice over LTE के द्वारा हमे free calling की सुविधा मिलती है और LTE technology की वजह से हम fast internet को अपने computer या mobile पर access कर पा रहे है। आज IT industries फल फूल रही है और internet की demand भी बहुत तेज़ी से बढ़ रही है तथा  high speed internet सभी को चाहिए ताकि उनके काम जल्दी हो सके। वही जब पहले 4g जैसे network नही थे और हमे इतनी अच्छी internet speed नही मिलती थी, तब हमे अगर किसी प्रकार का काम करना होता था जैसे कि internet banking या movie downloading या फिर कोई form fill करना होता था, तब हम लोगो को एक छोटे से काम को करने में भी काफी समय लग जाता था और कई बार तो लोग परेशान होकर छोड़ भी देते थे।

4g और 5g जैसे high speed internet technology की हमे इस लिए भी जरूरत है कि हम wireless powered technology को बढ़ावा दे सके और robot जैसी technology को और भी तेजी से बढ़ा सकें और जिस प्रकार से AI technology पर कार्य चल रहा है और हमारे daily life में technology involve होती जा रही है। उस से तो यही कहा जा सकता है कि आने वाले समय मे हम पूरी तरह से सभी चीज़ों के लिए इसी पर निर्भर हो जाएंगे।

दोस्तों आपको हमारी जानकारी कैसी लगी आप हमें comment box में ज़रूर बताएं और अपनी राय भी दे, और यदि आपको हमारी जानकारी से फायदा हुआ हो और कुछ सीखने को मिला हो तो आप इसे family के साथ तथा अपने social media friends के साथ ज़रूर share करे ताकि उनको भी LTE और volte के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *